in ,

नास्त्रेदमस की ये भविष्यवाणी 2018 में हो गई सच तो भारत का भविष्य होगा कुछ ऐसा..

जहां एक तरफ पूरी दुनिया नए साल के जश्न में डूबी हुई है। वहीँ दूसरी ओर तबाही का बड़ा मंजर भी दस्तक देने की फिराक में खड़ा दिखाई दे रहा है। दरअसल, उत्तर कोरिया के तानाशाह सुप्रीम किम जोंग उन ने अमेरिका को खुलेआम परमाणु हमले की धमकी देकर तीसरे विश्वयुद्ध की आशंका को और बढ़ा दिया है।

किम जोंग के इस तल्ख़ रवैय्ये से करीब साढ़े चार सौ साल पहले पहले फ्रांस के 16वीं (1503-1566) सदी के जाने-माने भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस की भाविश्वानी सच साबित होती नज़र आ रही हैl उन्होंने कहा था कि साल 2018 में भीषण प्राकृतिक आपदाएं आएंगी, अर्थव्यवस्था तहस-नहस हो जाएगी और तीसरा विश्वयुद्ध शुरू हो जाएगाl नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियां पहले भी कई बार सही साबित हो चुकी हैं, तो तीसरे विश्वयुद्ध को लेकर अब दुनिया की चिंता बढ़ना लाजमी हैl

इस भविष्यवाणी के साथ भारत का भविष्य भी जुड़ा हैl अगर ये सच हो जाती है तो पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत कौन-सी नीति अपनाता है, इसी बात पर भारत का भविष्य तय होगा ! ऐसे में क्या रहेगा इसपर भारत का रुख? जानने के लिए आगे पढ़ें..

किम जोंग ने दी अमेरिका को ये धमकी..

खुद उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने भी अमेरिका को धमकी देते हुए कहा कि अमेरिका की पूरी ज़मीन हमारी परमाणु मिसाइलों की जद में है और इन मिसाइलों का बटन हमेशा ही मेरी टेबल पर रहता है। उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया सबसे बड़ी परमाणु शक्ति बनकर दुनिया के सामने आएगा वर्तमान समय में उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच जिस तरह की तनातनी चल रही है, उससे तो यही लगता है कि इस साल परमाणु युद्ध का टलना मुश्किल है।

क्या रहेगा भारत का रुख..

अब सवाल ये है कि इस सबपर भारत का रुख क्या रहेगा ! अगर तीसरा विश्वयुद्ध हुआ, तो यह प्रथम और द्वितीय विश्वयुद्ध से भी भयानक होगा। वैश्विक व्यवस्था तहस-नहस हो जाएगी। उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच चल रहा तनाव को देखकर लगता है कि नास्त्रेदमस की ये भविष्यवाणी भी कहीं सही तो साबित नहीं हो जाएगी !

ऐसे में पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत अमेरिका और उत्तर कोरिया में से किसका साथ देगा ? या फिर ये भी हो सकता है कि भारत इससे अलग रहेl

अभी तक भी चीन के साथ डोकलाम विवाद और पाकिस्तान के साथ चल रहे तनाव में भारत ने हमेशा यही कोशिश की है कि किसी भी तरह के युद्ध की नौबत ना आयेl भारत ने अब तक शांति और बातचीत का रास्ता अपना युद्ध की स्थिति से दूरी बनाकर राखी हैl ऐसे में सवाल उठा है कि अगर तीसरा विश्व-युद्ध छिड़ जाए तो हमारी नीति क्या होगी !

पहले भी सही साबित हुई हैं नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियां..

बता दें, इससे पहले भी नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी सही साबित हुई हैंl डायना की मौत, तानाशाह एडोल्फ हिटलर के उदय, परमाणु बम, द्वितीय विश्व युद्ध, 9/11 आतंकी हमले, आदि के बारे में नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियां बिल्कुल सटीक साबित हुई हैंl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खेल मंत्री को पता चला इस एथलीट के बारे में तो उन्होंने तुरंत क्या किया देखिये !

अभी अभी सबसे बड़ी खबर : हो गया भारत पाक में युध ,12 हजार फीट की ऊंचाई से पैराशूट लगाकर कूदे सेना और भारतीय कमांडों, एक और सर्जिकल स्ट्राइक- पाक में दहशत !