in

आधी रात को मदरसे में पुलिस ने मारा छापा, उसके बाद जो हुआ देख ओवैसी, आजम की उड़ गई नींद

नई दिल्ली : सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को अपराधमुक्त बनाने का जो वादा किया था, उसमे वो पूरी तरह से खरे उतारते नज़र आ रहे हैं. योगी के वाडे को जमीनी सच्चाई बनाने के लिए सरकारी अफसर दिन-रात काम कर के अपने कर्त्वय का पालन कर रहे हैं. अपराधियों को सीधे ठोका जा रहा है. इसी कड़ी में पुलिस को एक मदरसे से जुडी गुप्त सूचना मिली और तुरंत स्वॉट टीम व कोतवाली पुलिस ने उसपर धावा बोल दिया.

Image result for yogi adityanath

मदरसा संचालक मौलाना समेत कई गिरफ्तार !
मामला उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ के आजाद नगर का हैं, जहाँ बुधवार रात स्वॉट टीम और कोतवाली पुलिस ने मदरसे पर छापा मारा और मदरसा संचालक, उसके बेटे और भतीजे को असामाजिक कार्यों में लिप्त होने के आरोप में गिरफ्तार करके हवालात में डाल दिया.

अब उनसे एक गुप्त स्थान पर पूछताछ की जा रही है. आपको बता दे कि आजाद नगर निवासी मौलाना मतीन मदसरे और स्कूल का संचालन करते हैं. उन्होंने अपने इस स्कूल के बगल ही अपना मकान भी बनवा रखा है. उनके भाई अब्दुल अलीम ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि बुधवार की रात स्वॉट टीम व कोतवाली पुलिस ने उनके घर पर दबिश दी. पुलिस ने मौलाना मतीन, उनके बेटे फैजान, जैद के अलावा सैफुलर्रहमान को पकड़ लिया और गिरफ्तार करके ले गए.

मदरसे की आड़ में असामाजिक काम !
खबर है कि मदरसे की आड़ में असामाजिक काम किये जा रहे थे, पुलिस को जैसे ही इसकी जानकारी मिली. पुलिस ने देर ना करते हुए मौलाना समेत बेटे व् अन्य को उठा लिया. जैसे ही मामले की जानकारी इलाके में फैली, तुरंत बड़ी संख्या में मुस्लिम जमा हो गए और गुुरुवार सुबह पूरा हुजूम लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच गए.

हुजूम में शामिल कुछ लोगों ने तो धमिकयां तक दे डाली. वहीँ माइनारटीज वेलफेयर सोसाइटी ने मौलाना मतीन के खिलाफ की गयी पुलिस कार्रवाई की निंदा की है. नगर अध्यक्ष इसरार अहमद, जफरुल हसन, नसीम, अब्दुल जब्बार, मुहिब्बुल आरफीन, इमाम अली, गुलहसन, लियाकम समेत अन्य लोगों ने चेतावनी दी है कि यदि निर्दोष लोगों पर कोई फर्जी कार्रवाई की गई तो वो लोग आंदोलन करेंगे.

बात दें कि योगी सरकार प्रदेश में चल रहे मदरसों को लेकर काफी सख्त हो गयी है. कई मदरसों में गैर-कानूनी चलाये जाने की ख़बरें सामने आयी हैं, साथ ही कई मदरसे केवल कागजों पर ही चलते हैं, ये मदरसों के नाम पर सालों से सरकारी पैसों की सहायता की लूट करते आ रहे हैं.

इसी सब को बंद करवाने के लिए योगी सरकार ने सभी मदरसों को ऑनलाइन करने का आदेश दिया है. साथ ही किसी तरह की लूट ना हो सके इसके लिए सभी मदरसों का नवीनीकरण करके उन्हें ऑनलाइन किया जाएगा. गैर-कानूनी कामों में लगे मौलानाओं के दिन पूरे हो चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

वीडियो: जब कांग्रेसी प्रवक्ता ने डिबेट में घसीट लिया पीएम मोदी की माँ का नाम, जिसके जवाब में संबित पात्रा ने सोनिया गाँधी का सालों पुराना राज़…

ममता सरकार को HC की कड़ी फटकार- विसर्जन ही क्यों, रोक लगाना है तो सबपर लगाएं