in

भारतीय कमांडोज ने तीन नहीं 6 PAK सैनिकों को 72 हूरों के पास पहुंचाया, धड़ से अलग कर दिया सिर

New Delhi : भारतीय सेना के कमांडो ने पाकिस्तान को उसकी हद में घुसकर धूल चटाने का कारनामा किया है। जम्मू-कश्मीर में पुंछ सेक्टर के पास रावलकोट इलाके में कमांडो ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार की और खास प्लानिंग के साथ दुश्मन सेना को परास्त किया।
भारतीय सेना ने 48 घंटे के अंदर बॉर्डर वाले बदले से पाकिस्तान को जो ट्रेलर दिखाया, उससे पाकिस्तान भी सकते में आ गया। दरअसल, 23 दिसंबर को जम्मू-कश्मीर के राजौरी क्षेत्र में पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग की गई, जिसमें एक मेजर समेत चार भारतीय जवान शहीद हुए। अपने साथियों की शहादत का बदला लेने के लिए सेना ने पाकिस्तान को तुरंत मुंहतोड़ जवाब देने की योजना बनाई।

भारतीय सेना ने दो और पाकिस्तानी जवानों को ढेर किया है। यानी सेना ने अपने 4 जवानों की शहादत का बदला लेते हुए 24 घंटे के अंदर 6 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया।

सीमा पार जाकर पाकिस्तानियों से बदला लेने की जिम्मेदारी इन्फेंट्री बटालियन की एक टीम को दी गई।

भारतीय सेना के चार से पांच कमांडो लाइन ऑफ कंट्रोल पार गए और वहां टैक्टिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया। ये एक्शन रविवार देर शाम लिया गया। बताया जा रहा है कि भारतीय सेना के जवानों ने दोपहर से लाइन ऑफ कंट्रोल पार करने की प्लानिंग की। इसके बाद एलओसी पार आधा किलोमीटर तक पहुंच गए।

ऐसे ट्रैप में फंसाया रू

जवानों ने यहां आईईडी (IED) लगाए। इस दौरान पाकिस्तान सैनिकों की पैट्रोलिंग टीम जैसे IED की हद में आए, वहां जबरदस्त ब्लास्ट हुए। इन धमाकों ने पाकिस्तान सैनिकों को चौंका दिया। ब्लास्ट के बाद पाकिस्तानी जवान कुछ देर खामोश रहे। इसके बाद धीरे-धीरे पाकिस्तानी सैनिक ब्लास्ट की जगह पहुंचे और उनको होश फाख्ता हो गए।

भारतीय जवानों ने जो जाल फेंका था, उसमें पाकिस्तानी सैनिक फंस गए। वो जैसे ही ब्लास्ट की जगह पहुंचे घात लगाए बैठे भारतीय कमांडो ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 59 बलूच रेजिमेंट के तीन जवानों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हो गया। बताया जा रहा है कि बाद में पाकिस्तान के घायल जवान की भी मौत हो गई।

भारतीय सेना की इस एक्शन ने सबको चौंका दिया है। आतंक के पनाहगाह पाकिस्तान को भारत की तरफ से ऐसी कार्रवाई का अंदेशा नहीं था। दरअसल, शनिवार को भारतीय जवानों की शहादत हुई। माना जाता है कि सेना तत्काल रिएक्ट नहीं करती है। लेकिन भारतीय जवानों ने अपने साथियों की शहादत के तुरंत बाद इस जवाबी हमले की रूपरेखा तैयार कर ली और पाकिस्तान को किसी तैयारी का मौका तक नहीं दिया।

एक और खास बात ये कि इस बड़े जवाबी हमले को इलाके में तैनात लोकल कमांडर्स के स्तर पर अंजाम दिया गया। जिससे ये बात भी सामने आ रही है कि मोदी सरकार ने किसी भी हमला का जवाब देने के लिए आर्मी को फ्री हैंड दिया हुआ है।

पाक का बयान :

पाकिस्तान ने भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को खारिज किया है। साथ ही ये भी कहा है कि उसके 3 जवान मारे गए हैं। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कहा है कि किसी भी भारतीय जवान ने बॉर्डर पार नहीं किया है।

इस जवाबी हमले से पहले भारतीय सेना ने दो और पाकिस्तानी जवानों को ढेर किया है। यानी सेना ने अपने 4 जवानों की शहादत का बदला लेते हुए 24 घंटे के अंदर 6 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इस मामले में चाइना रह गया भारत से पीछे. भारत बना World का नंबर वन Country

अवैध 1 करोड़ बांग्लादेशियों को किया जायेगा असम से बाहर, हो चुकी है पूरी तैयारी